Best Intezaar shayari – इंतेज़ार शायरी 2021

हेलो दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे वेबसाइट PicShayari.in पर क्या आपको भी कुछ बेहतरीन Intezaar shayari की तलाश में है? तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं क्योंकि आपको इस पेज पर एक से बढ़कर एक बेहतरीन Intezaar shayari – इंतेज़ार शायरी in Hindi और इंग्लिश में मिल जाएंगे

हमारी जिंदगी में कई ऐसे उतार चढ़ाओ आते हैं जो हमारी जिंदगी में कभी खुशियां लेकर आते हैं तो कभी गम और साथ ही कई बार ऐसा भी होता है कि जिसे हम अपने दिलो जान से प्यार करते हैं वह हमसे दूर चला जाता है

किसी भी कारणवश जिसके चले जाने के बाद हम उसका इंतजार करते हैं कि वह जल्दी से जल्दी हमारे पास आ जाए क्योंकि हम उसे बहुत प्यार करते हैं और कई बार ऐसा होता है कि वह लौटकर हमारे पास आ जाते हैं लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि जो हम चाहें वह नहीं होता है शायद उस व्यक्ति को आपके प्यार का अनुभव नहीं होता या फिर उसे पता नहीं होता कि आप से कितना प्यार करते हैं 

और आप उससे बता भी नहीं पाते हैं कि आप उससे कितना प्यार करते हैं ऐसे टाइम मैं आप Intezaar shayari यों की मदद से उन्हें यह अनुभव करा सकते हैं कि आप उन्हें कितना मिस कर रहे हैं और आप उन्हें कितना प्यार करते हैं

आप Intezaar shayari यों को अपने सोशल मीडिया के हैंडल पर शेयर कर सकते हैं जिन्हें पढ़कर उन्हें यह महसूस होगा कि आप उनका इंतजार कर रहे हैं और वह आपके पास शायद वापस आ जाएं

Top Intezaar shayari – इंतेज़ार शायरी

फूलों के बाग़ में उतने फूल नहीं होंगे,
जितने तेरी याद में लहू के आंसू बहे होंगे,
हम करते रहेंगे इंतज़ार तुम्हारा तब तक,
जब तक दिन में चमकते सितारे नहीं होंगे।

♥ P͟h͟o͟o͟l͟o͟n͟ k͟e͟ b͟a͟a͟g͟ m͟e͟i͟n͟ u͟t͟a͟n͟e͟ p͟h͟o͟o͟l͟ n͟a͟h͟i͟n͟ h͟o͟n͟g͟e͟,
j͟i͟t͟a͟n͟e͟ t͟e͟r͟e͟e͟ y͟a͟a͟d͟ m͟e͟i͟n͟ l͟a͟h͟o͟o͟ k͟e͟ a͟a͟n͟s͟o͟o͟ b͟a͟h͟e͟ h͟o͟n͟g͟e͟,
h͟a͟m͟ k͟a͟r͟a͟t͟e͟ r͟a͟h͟e͟n͟g͟e͟ i͟n͟t͟a͟z͟a͟a͟r͟ t͟u͟m͟h͟a͟a͟r͟a͟ t͟a͟b͟ t͟a͟k͟,
j͟a͟b͟ t͟a͟k͟ d͟i͟n͟ m͟e͟i͟n͟ c͟h͟a͟m͟a͟k͟a͟t͟e͟ s͟i͟t͟a͟a͟r͟e͟ n͟a͟h͟i͟n͟ h͟o͟n͟g͟e͟. ♥

Top Intezaar shayari

ये जो पत्थर है आदमी था कभी,
इस को कहते हैं इंतज़ार मियां।

Y͟e͟ J͟o͟ P͟a͟t͟t͟h͟a͟r͟ H͟a͟i͟ A͟a͟d͟m͟i͟ T͟h͟a͟ K͟a͟b͟h͟i͟,
I͟s͟s͟ K͟o͟ K͟a͟h͟t͟e͟ H͟a͟i͟n͟ I͟n͟t͟e͟z͟a͟r͟ M͟i͟y͟a͟a͟n͟.

Top Intezaar shayari

पेड़ के नीचे बैठा रहता हूँ मैं,
पत्तों पर नाम तेरा लिखता रहता हूँ मैं,
कब तक इंतज़ार करना पड़ेगा तेरा मुझे,
अपने आंसुओं से इस पेड़ को सींचता रहता हूँ मैं।

Intezaar shayari 2 line

P͟e͟d͟ k͟e͟ n͟e͟e͟c͟h͟e͟ b͟a͟i͟t͟h͟a͟ r͟a͟h͟a͟t͟a͟ h͟o͟o͟n͟ m͟a͟i͟n͟,
p͟a͟t͟t͟o͟n͟ p͟a͟r͟ n͟a͟a͟m͟ t͟e͟r͟a͟ l͟i͟k͟h͟a͟t͟a͟ r͟a͟h͟a͟t͟a͟ h͟o͟o͟n͟ m͟a͟i͟n͟,
k͟a͟b͟ t͟a͟k͟ i͟n͟t͟a͟z͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟n͟a͟ p͟a͟d͟e͟g͟a͟ t͟e͟r͟a͟ m͟u͟j͟h͟e͟,
a͟p͟a͟n͟e͟ a͟a͟n͟s͟u͟o͟n͟ s͟e͟ i͟s͟ p͟e͟d͟ k͟o͟ s͟e͟e͟n͟c͟h͟a͟t͟a͟ r͟a͟h͟a͟t͟a͟ h͟o͟o͟n͟ m͟a͟i͟n͟.

Top Intezaar shayari

ग़जब किया तेरे वादे पर ऐतबार किया,
तमाम रात किया क़यामत का इंतज़ार किया।

G͟h͟a͟z͟a͟b͟ K͟i͟y͟a͟ T͟e͟r͟e͟ W͟a͟d͟e͟ P͟a͟r͟ A͟i͟t͟b͟a͟a͟r͟ K͟i͟y͟a͟,
T͟a͟m͟a͟a͟m͟ R͟a͟a͟t͟ K͟i͟y͟a͟ Q͟a͟y͟a͟m͟a͟t͟ K͟a͟ I͟n͟t͟e͟z͟a͟a͟r͟ K͟i͟y͟a͟.

Intezaar shayari 2 line

वो रुख्सत हुई तो आँख मिलाकर नहीं गई,
वो क्यों गई यह बताकर नहीं गई,
लगता है वापिस अभी लौट आएगी,
वो जाते हुए चिराग़ बुझाकर नहीं गई।

W͟o͟ R͟u͟k͟h͟s͟a͟t͟ H͟u͟i͟ T͟o͟ A͟a͟n͟k͟h͟ M͟i͟l͟a͟ K͟a͟r͟ G͟a͟y͟i͟,
W͟o͟ K͟y͟u͟n͟ G͟a͟i͟ Y͟e͟h͟ B͟a͟t͟a͟ K͟a͟r͟ N͟a͟h͟i͟n͟ G͟a͟y͟i͟,
L͟a͟g͟t͟a͟ H͟a͟i͟ B͟a͟p͟i͟s͟ A͟b͟h͟i͟ L͟a͟u͟t͟ A͟a͟y͟e͟g͟i͟,
W͟o͟ J͟a͟a͟t͟e͟ H͟u͟e͟ C͟h͟i͟r͟a͟g͟ B͟u͟j͟h͟a͟ K͟a͟r͟ N͟a͟h͟i͟n͟ G͟a͟y͟i͟

Intezaar shayari 2 line

सुनो बहुत इन्तजार करता हूँ तुह्मारा
सिर्फ एक कदम बढ़ा दो
बाकि के फासले मै खुद तय कर लूँगा

S͟u͟n͟o͟ b͟a͟h͟u͟t͟ i͟n͟t͟a͟j͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟t͟a͟ h͟o͟o͟n͟ t͟u͟h͟m͟a͟a͟r͟a͟
s͟i͟r͟p͟h͟ e͟k͟ k͟a͟d͟a͟m͟ b͟a͟d͟h͟a͟ d͟o͟ b͟a͟a͟k͟i͟ k͟e͟
p͟h͟a͟a͟s͟a͟l͟e͟ m͟a͟i͟ k͟h͟u͟d͟ t͟a͟y͟ k͟a͟r͟ l͟o͟o͟n͟g͟a͟.

Intezaar shayari love

Intezaar shayari love

दिन भर भटकते रहते हैं अरमान तुझसे मिलने के,
न ये दिल ठहरता है न तेरा इंतज़ार रुकता है।

D͟i͟n͟ B͟h͟a͟r͟ B͟h͟a͟t͟a͟k͟t͟e͟ R͟a͟h͟t͟e͟ H͟a͟i͟n͟ A͟r͟m͟a͟a͟n͟ T͟u͟j͟h͟s͟e͟ M͟i͟l͟n͟e͟ K͟e͟,
N͟a͟ Y͟e͟h͟ D͟i͟l͟ T͟h͟e͟h͟r͟t͟a͟ H͟a͟i͟ N͟a͟ T͟e͟r͟a͟ I͟n͟t͟e͟z͟a͟a͟r͟ R͟u͟k͟t͟a͟ H͟a͟i͟.

Intezaar shayari love

रात देर तक तेरी दहलीज़ पर
बैठी रहीं आँखें,
खुद न आना था तो कोई
ख्वाब ही भेज दिया होता।

R͟a͟a͟t͟ d͟e͟r͟ t͟a͟k͟ t͟e͟r͟e͟e͟ d͟a͟h͟a͟l͟e͟e͟z͟ p͟a͟r͟ b͟a͟i͟t͟h͟e͟e͟ r͟a͟h͟e͟e͟n͟ a͟a͟n͟k͟h͟e͟n͟,
k͟h͟u͟d͟ n͟a͟ a͟a͟n͟a͟ t͟h͟a͟ t͟o͟ k͟o͟e͟e͟ k͟h͟v͟a͟a͟b͟ h͟e͟e͟ b͟h͟e͟j͟ d͟i͟y͟a͟ h͟o͟t͟a͟

Intezaar shayari love

तड़पती है आज भी रूह आधी रात को,
निकल पड़ते हैं आँख से आँसू आधी रात को,
इंतज़ार में तेरे वर्षों बीत गए सनम मेरे,
दिल को है आस आएगी तू आधी रात को।

T͟a͟d͟a͟p͟t͟i͟ H͟a͟i͟ A͟a͟j͟ B͟h͟i͟ R͟o͟o͟h͟ A͟a͟d͟h͟i͟ R͟a͟a͟t͟ K͟o͟,
N͟i͟k͟a͟l͟ P͟a͟d͟t͟e͟ H͟a͟i͟n͟ A͟a͟n͟k͟h͟ S͟e͟ A͟a͟n͟s͟u͟ A͟a͟d͟h͟i͟ R͟a͟a͟t͟ K͟o͟,
I͟n͟t͟e͟z͟a͟r͟ M͟e͟ T͟e͟r͟e͟ B͟a͟r͟s͟h͟o͟ B͟e͟e͟t͟ G͟a͟y͟e͟ S͟a͟n͟a͟m͟ M͟e͟r͟e͟,
D͟i͟l͟ K͟o͟ H͟a͟i͟ A͟a͟s͟ A͟y͟e͟g͟i͟ T͟u͟ A͟a͟d͟h͟i͟ R͟a͟a͟t͟ K͟o͟.

Intezaar shayari love

मेरी निगाह में फिर कोई दूसरा चेहरा नहीं आया,
भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का।

M͟e͟r͟e͟ n͟i͟g͟a͟a͟h͟ m͟e͟i͟n͟ p͟h͟i͟r͟ k͟o͟e͟e͟ d͟o͟o͟s͟a͟r͟a͟ c͟h͟e͟h͟a͟r͟a͟ n͟a͟h͟i͟n͟ a͟a͟y͟a͟,
b͟h͟a͟r͟o͟s͟a͟ h͟e͟e͟ k͟u͟c͟h͟h͟ a͟i͟s͟a͟ t͟h͟a͟ t͟u͟m͟h͟a͟a͟r͟e͟ l͟a͟u͟t͟ a͟a͟n͟e͟ k͟a͟.

Intezaar shayari love

आपकी जुदाई भी हमें प्यार करती है,
आपकी यादें भी हमे बेकरार करती है,
आते जाते यूँ ही हो जाए मुलाकात आपसे,
तलाश आपको ये नजर बार बार करती है।

A͟a͟p͟a͟k͟e͟e͟ j͟u͟d͟a͟e͟e͟ b͟h͟e͟e͟ h͟a͟m͟e͟n͟ p͟y͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟t͟e͟e͟ h͟a͟i͟,
a͟a͟p͟a͟k͟e͟e͟ y͟a͟a͟d͟e͟n͟ b͟h͟e͟e͟ h͟a͟m͟e͟ b͟e͟k͟a͟r͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟t͟e͟e͟ h͟a͟i͟,
a͟a͟t͟e͟ j͟a͟a͟t͟e͟ y͟o͟o͟n͟ h͟e͟e͟ h͟o͟ j͟a͟e͟ m͟u͟l͟a͟a͟k͟a͟a͟t͟ a͟a͟p͟a͟s͟e͟,
t͟a͟l͟a͟a͟s͟h͟ a͟a͟p͟a͟k͟o͟ y͟e͟ n͟a͟j͟a͟r͟ b͟a͟a͟r͟ b͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟t͟e͟e͟ h͟a͟i͟.

Intezaar shayari love

कोई क्यों मेरा इंतज़ार करेगा,
अपनी जिंदगी मेरे लिए बेकार करेगा,
हम कौन से, किसी के लिए ख़ास हैं,
क्या सोचकर कोई हमें याद करेगा।

K͟o͟e͟ k͟y͟o͟n͟ m͟e͟r͟a͟ i͟n͟t͟a͟z͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟e͟g͟a͟,
a͟p͟a͟n͟e͟ j͟i͟n͟d͟a͟g͟e͟ m͟e͟r͟e͟ l͟i͟e͟ b͟e͟k͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟e͟g͟a͟,
h͟a͟m͟ k͟a͟u͟n͟ s͟e͟, k͟i͟s͟e͟ k͟e͟ l͟i͟e͟ k͟h͟a͟a͟s͟ h͟a͟i͟n͟,
k͟y͟a͟ s͟o͟c͟h͟a͟k͟a͟r͟ k͟o͟e͟ h͟a͟m͟e͟n͟ y͟a͟a͟d͟ k͟a͟r͟e͟g͟a͟.

Intezaar shayari love

ज़ख़्म इतने गहरे हैं इज़हार क्या करें,
हम खुद निशाना बन गए वार क्या करें,
मर गए हम मगर खुली रही ये आँखें,
इससे ज्यादा उनका इंतज़ार क्या करें।

Z͟a͟k͟h͟m͟ i͟t͟a͟n͟e͟ g͟a͟h͟a͟r͟e͟ h͟a͟i͟n͟ i͟z͟a͟h͟a͟a͟r͟ k͟y͟a͟ k͟a͟r͟e͟n͟,
h͟a͟m͟ k͟h͟u͟d͟ n͟i͟s͟h͟a͟a͟n͟a͟ b͟a͟n͟ g͟a͟e͟ v͟a͟a͟r͟ k͟y͟a͟ k͟a͟r͟e͟n͟,
m͟a͟r͟ g͟a͟e͟ h͟a͟m͟ m͟a͟g͟a͟r͟ k͟h͟u͟l͟e͟e͟ r͟a͟h͟e͟e͟ y͟e͟ a͟a͟n͟k͟h͟e͟n͟,
i͟s͟a͟s͟e͟ j͟y͟a͟a͟d͟a͟ u͟n͟a͟k͟a͟ i͟n͟t͟a͟z͟a͟a͟r͟ k͟y͟a͟ k͟a͟r͟e͟n͟.

Intezaar shayari love

उस अजनबी से तुझे इतना प्यार क्यों है
इंकार करने पर भी चाहत का इन्तजार कतु है
उसे पाना नही मेरी किश्मत में सायद
फिर भी हर मोड़ पे उसी का इन्तजार क्यों है

U͟s͟ a͟j͟a͟n͟a͟b͟e͟ s͟e͟ t͟u͟j͟h͟e͟ i͟t͟a͟n͟a͟ p͟y͟a͟a͟r͟ k͟y͟o͟n͟ h͟a͟i͟ i͟n͟k͟a͟a͟r͟ k͟a͟r͟a͟n͟e͟
p͟a͟r͟ b͟h͟e͟e͟ c͟h͟a͟a͟h͟a͟t͟ k͟a͟ i͟n͟t͟a͟j͟a͟a͟r͟ k͟a͟t͟u͟ h͟a͟i͟ u͟s͟e͟ p͟a͟a͟n͟a͟ n͟a͟h͟e͟
m͟e͟r͟e͟ k͟i͟s͟h͟m͟a͟t͟ m͟e͟i͟n͟ s͟a͟a͟y͟a͟d͟ p͟h͟i͟r͟ b͟h͟e͟e͟ h͟a͟r͟ m͟o͟d͟ p͟e͟ u͟s͟e͟ k͟a͟ i͟n͟t͟a͟j͟a͟a͟r͟ k͟y͟o͟n͟ h͟a͟i͟

Intezaar shayari love

दिल में इंतज़ार की लकीर छोड़ जायेंगे,
आँखों में यादों की नमी छोड़ जायेंगे,
ढूंढ़ते फिरोगे हमें हर जगह एक दिन,
ज़िन्दगी में ऐसी अपनी कमी छोड़ जायेंगे।

D͟i͟l͟ M͟e͟ I͟n͟t͟e͟z͟a͟r͟ K͟i͟ L͟a͟k͟e͟e͟r͟ C͟h͟h͟o͟d͟ J͟a͟y͟e͟n͟g͟e͟,
Aa͟n͟k͟h͟o͟n͟ M͟e͟ Y͟a͟a͟d͟o͟ K͟i͟ N͟a͟m͟i͟ C͟h͟h͟o͟d͟ J͟a͟y͟e͟n͟g͟e͟,
D͟h͟u͟d͟h͟t͟e͟ F͟i͟r͟o͟g͟e͟ H͟u͟m͟e͟ H͟a͟r͟ J͟a͟g͟a͟h͟ E͟k͟ D͟i͟n͟,
Z͟i͟n͟d͟a͟g͟i͟ M͟e͟ A͟i͟s͟i͟ A͟p͟n͟i͟ K͟a͟m͟i͟ C͟h͟h͟o͟d͟ J͟a͟y͟e͟n͟g͟e͟.

Intezaar shayari love

कुछ रोज़ यह भी रंग रहा तेरे इंतज़ार का,
आँख उठ गई जिधर बस उधर देखते रहे।

K͟u͟c͟h͟ r͟o͟z͟ y͟a͟h͟ b͟h͟e͟e͟ r͟a͟n͟g͟ r͟a͟h͟a͟ t͟e͟r͟e͟ i͟n͟t͟a͟z͟a͟a͟r͟ k͟a͟,
Aa͟n͟k͟h͟ u͟t͟h͟ g͟a͟e͟e͟ j͟i͟d͟h͟a͟r͟ b͟a͟s͟ u͟d͟h͟a͟r͟ d͟e͟k͟h͟a͟t͟e͟ r͟a͟h͟e͟.

Intezaar Shayari with images

Intezaar Shayari with images

ये कह कह के हम दिल को समझा रहे है
कि वो अब चल चुके,वो अब आ रहे है।

Y͟e͟ K͟a͟h͟ K͟a͟h͟ K͟e͟ H͟u͟m͟ D͟i͟l͟ K͟o͟ S͟a͟m͟j͟h͟a͟ R͟a͟h͟e͟ H͟a͟i͟n͟,
W͟o͟ A͟b͟ C͟h͟a͟l͟ C͟h͟u͟k͟e͟, W͟o͟ A͟b͟ A͟a͟ R͟a͟h͟e͟ H͟a͟i͟n͟.

Intezaar Shayari with images

मुझे उस दिन का इंतज़ार है,
जिस दिन आपकी रज़ाई और मेरी रज़ाई एक हो जाएगी

M͟u͟j͟h͟e͟ u͟s͟s͟ d͟i͟n͟ k͟a͟ i͟n͟t͟e͟z͟a͟a͟r͟ h͟a͟i͟,
J͟i͟s͟ d͟i͟n͟ a͟a͟p͟k͟i͟ r͟a͟z͟a͟i͟ a͟u͟r͟ m͟e͟r͟i͟ r͟a͟z͟a͟i͟ e͟k͟ h͟o͟ j͟a͟y͟e͟g͟i͟

Intezaar Shayari with images

 

इसे भी पढ़े –

1 thought on “Best Intezaar shayari – इंतेज़ार शायरी 2021”

Leave a Comment