Best Bhagvat Gita Shlok in Hindi 2021

Best Bhagvat Gita Shlok in Hindi With Images

Bhagvat Gita Shlok in Hindi – Bhagvat Gita को सनातन धर्म का पवित्र प्रस्थान कहा जाता है। श्रीमद् भागवत गीता का उपदेश भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को दिया था जब कौरवों और पांडवों के बीच युद्ध हुआ था।

श्रीमद् भागवत गीता में आपके कुल 18 अध्याय और 700 श्लोक हैं। इसमें 700 श्लोक। आपके लिए कुछ सर्वश्रेष्ठ भगवत गीता उद्धरण और हिंदी में श्लोक संग्रहीत किए गए हैं।

आप उन्हें अपने दोस्तों, परिवार के सदस्यों के साथ साझा कर सकते हैं, और आप उन्हें अपने सोशल मीडिया हैंडल जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और स्नैपचैट पर भी साझा कर सकते हैं।

Let us see some of the best Shrimad Bhagvat Gita Shlok in Hindi

आत्मा को शास्त्र नहीं काट सकते
आत्मा को शास्त्र नहीं काट सकते ,
अग्नि नहीं जला सकती , जल नहीं गाला सकता ,
वायु नहीं सूखा सकती.
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

हे अर्जुन! मन अशांत है
हे अर्जुन! मन अशांत है और उसे नियंत्रित करना कठिन है,
लेकिन अभ्यास से इसे वश में किया जा सकता है।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

मैं सभी प्राणियों को एकसमान रूप
मैं सभी प्राणियों को एकसमान रूप से देखता हूं।
मेरे लिए ना कोई कम प्रिय है ना ज्यादा,
लेकिन जो मनुष्य मेरी प्रेमपूर्वक आराधना करते हैं।
वो मेरे भीतर रहते हैं और मैं उनके जीवन में आता हूं।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

मनुष्य को परिणाम की चिंता किए बिना
मनुष्य को परिणाम की चिंता किए बिना,
लोभ- लालच बिना एवं निस्वार्थ और निष्पक्ष होकर
अपने कर्तव्यों का पालन करना चाहिए।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

आनंद अपने अंदर ही निवास करता है
आनंद अपने अंदर ही निवास करता है
परंतु मनुष्य उसे स्त्री में,घर में, या बाहर के सुखों में खोज रहा है।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

वह जो वास्तविकता में मेरे उत्कृष्ट
वह जो वास्तविकता में मेरे उत्कृष्ट
जन्म और गतिविधियों को समझता है,
वह शरीर त्यागने के बाद पुनः जन्म नहीं
लेता और मेरे धाम को प्राप्त होता है
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

मनुष्य को जीवन की चुनौतियों से
मनुष्य को जीवन की चुनौतियों से
भागना नहीं चाहिए और न ही भाग्य
और ईश्वर की इच्छा जैसे बहानों का प्रयोग करना चाहिए।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

हम सब आत्माये है और ये
हम सब आत्माये है और ये ज़िंदगी हम आत्माओं
के लिए एक इम्तिहान है अपने अंदर से अपने
सबसे अच्छे स्वरूप को बाहर निकालने का।
Best Bhagvat Gita Quotes And Shlok in Hindi

सभी बुरे काम छोड़ कर बस
सभी बुरे काम छोड़ कर बस भगवान में पूर्ण
रूप से समर्पित हो जाओ. मैं तुम्हे सभी
पापों से मुक्त कर दूंगा. शोक मत करो.
Best Bhagvat Gita Quotes

मनुष्य को अपने कर्मों के संभावित
मनुष्य को अपने कर्मों के संभावित परिणामों
से प्राप्त होने वाली विजय या पराजय,
लाभ या हानि, प्रसन्नता या दुःख इत्यादि के बारे
में सोच कर चिंता से ग्रसित नहीं होना चाहिए।
Best Bhagvat Gita Quotes

हे अर्जुन! मन की गतिविधियों
हे अर्जुन! मन की गतिविधियों, होश,
श्वास, और भावनाओं के माध्यम से
भगवान की शक्ति सदा तुम्हारे साथ है
Best Bhagvat Gita Quotes

सज्जन पुरुष अच्छे आचरण वाले
सज्जन पुरुष अच्छे आचरण वाले सज्जन पुरुषो में ,
नीच पुरुष नीच लोगो में ही रहना चाहते है
स्वाभाव से पैदा हुई जिसकी जैसी प्रकृति है
उस प्रकृति को कोई नहीं छोड़ता
Best Bhagvat Gita Quotes

जो मनुष्य अपने मन को नियंत्रण
जो मनुष्य अपने मन को नियंत्रण में नहीं रख
सकता वह शत्रु के समान कार्य करता है।
Best Bhagvat Gita Quotes

वासना पुन जन्म का कारण
वासना पुन जन्म का कारण बनती है।
इंद्रियो के अधीन होने से मनुष्य के जीवन में विकार आता है।
Best Bhagvat Gita Quotes

मनुष्य को अपने धर्म के अनुसार कर्म
मनुष्य को अपने धर्म के अनुसार कर्म करना चाहिए।
जैसे – विद्यार्थी का धर्म विद्या प्राप्त करना,
सैनिक का धर्म देश की रक्षा करना आदि।
जिस मानव का जो कर्तव्य है उसे वह कर्तव्य पूर्ण करना चाहिए।
Best Bhagvat Gita Quotes

भगवान से ही सब उत्पन्न होता है
भगवान से ही सब उत्पन्न होता है
और भगवान् से ही सबकी चेष्टा हो सही है
अर्थात सबके मूल में भगवान् ही है .
Best Bhagvat Gita Quotes

हे अर्जुन! जो मन को नियंत्रित
हे अर्जुन! जो मन को नियंत्रित नहीं करते
उनके लिए वह शत्रु के समान कार्य करता है।
Best Bhagvat Gita Quotes

केवल मन ही किसी का
केवल मन ही किसी का मित्र और शत्रु होता है
Best Bhagvat Gita Quotes

जो होने वाला है वो होकर ही
जो होने वाला है वो होकर ही रहता है
और जो नहीं होने वाला वह कभी नहीं होता .
ऐसा निश्चय जिनकी बुद्धि में होता है उन्हें चिंता कभी नहीं सताती
Best Bhagvat Gita Quotes

व्यक्ति जो चाहे बन सकता है,
व्यक्ति जो चाहे बन सकता है,
यदि वह विश्वास के साथ इच्छित वस्तु पर लगातार चिंतन करें।
Best Bhagvat Gita Quotes

ऐसा कुछ भी नहीं, चेतन
ऐसा कुछ भी नहीं, चेतन या अचेतन,
जो मेरे बिना अस्तित्व में रह सकता हो ।
Best Bhagvat Gita Quotes

जीवन न तो भविष्य में है
जीवन न तो भविष्य में है न अतीत मैं ,
जीवन तो बस इस पल मैं है
Best Bhagvat Gita Quotes

श्रीमद्भगवद्गीता के अनुसार
श्रीमद्भगवद्गीता के अनुसार नरक
के 3 द्वार हैं- क्रोध, वासना और लालच।
Best Bhagvat Gita Quotes

दुःख से जिसका मन परेशान
दुःख से जिसका मन परेशान नहीं होता,
सुख की जिसको आकांक्षा नहीं होती तथा जिसके मन में राग,
भय और क्रोध नष्ट हो गए हैं, ऐसा मुनि आत्मज्ञानी कहलाता है।
Best Bhagvat Gita Quotes

जो दान बिना सत्कार के
जो दान बिना सत्कार के,
कुपात्र को दिया जाता है वह तमस दान कहलाता है
Best Bhagvat Gita Quotes

जो मनुष्य जिस प्रकार से ईश्वर
जो मनुष्य जिस प्रकार से ईश्वर का स्मरण करता है
उसी के अनुसार ईश्वर उसे फल देते हैं।
कंस ने श्रीकृष्ण को सदैव मृत्यु के लिए स्मरण किया तो श्रीकृष्ण
ने भी कंस को मृत्यु प्रदान की। अतः परमात्मा को उसी
रूप में स्मरण करना चाहिए जिस रूप में मानव उन्हें पाना चाहता है।
Best Bhagvat Gita Quotes

दम्भ , अहंकार , घमंड , क्रोध
दम्भ , अहंकार , घमंड , क्रोध अज्ञान
ये आसुरी सम्प्रदा के लक्षण है
Best Bhagvat Gita Quotes

3 thoughts on “Best Bhagvat Gita Shlok in Hindi 2021”

Leave a Comment