Best Dard Bhari shayari – दरद भरी शायरी 2021

नमस्ते,दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे वेबसाइट PicShayari.in  पर क्या आपको भी कुछ बेहतरीन Dard Bhari Shayari की तलाश है? तो आप बिल्कुल तो सही जगह पर आए हैं क्योंकि आपको इस पेज पर एक से बढ़कर एक बेहतरीन Dard Bhari Shayari in Hindi और इंग्लिश में मिल जाएंगे

आज हम अपने  सभी दोस्तों के लिए कुछ सर्वश्रेष्ठ Dard bhari Shayari  का संग्रह लेकर आए हैं जो प्यार में धोखा खाए हुए हैं उन सभी दोस्तों के लिए Dard Bhari Shayari लेकर आए हैं जो उन्हें बहुत पसंद आएगा आप एक प्रकार से यह भी कर सकते हैं कि यह दुनिया की सबसे से ज्यादा dard bhari shayari है जो आपको बहुत पसंद आएगी क्योंकि अगर कभी भी आपका दिल टूटा है या किसी ने तोड़ा है तो ये dard bhari shayari केवल आपके लिए है

 हम आपके लिए इसलिए हिंदी भाषा में  बेहतरीन Shayari का कलेक्शन लेकर आते हैं जिन्हें पढ़ने के बाद आपको  वह जरूर पसंद आएंगे हमने इस लेख में लगभग 40 से भी ज्यादा Dard bhari Shayari पोस्ट की है 

जिन्हें आप चाहे तो अपने सोशल मीडिया के हैंडल पर भी शेयर कर सकते हैं जैसे कि फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप इत्यादि पी वह भी अच्छे क्वालिटी की इमेजेस के साथ जिन्हें आप अपने सोशल मीडिया के स्टोरी में भी पोस्ट कर सकते हैं 

Dard Bhari Shayari in Hindi

मोहब्बत ख़ूबसूरत होगी किसी और दुनिया में,

इधर तो हम पर जो गुज़री है हम ही जानते हैं।

Mohabbat Khubsurat Hogi Kisi Aur Duniya Mein,

Idhar Toh Hum Par Jo Gujri Hai Hum Hi Jante Hain.

Dard Bhari Shayari in Hindi

रह रह के मुझे इतना रुलाते क्यूँ हो

याद कर नही सकते तो याद आते क्यूँ हो

Rah Rah Ke Mujhe Itna Rulate Kyun Ho

Yaad Kar Nahi Sakte To Yaad Aate Kyun Ho

Dard Bhari Shayari in Hindi

फिर यूं हुआ की सब्र की ऊँगली पकड़कर हम,

इतना चले की रास्ते हैरान रह गए।

Phir Yun Hua Kee Sabr Kee Oon Gali Pakad Kar Ham,

Itana Chale Kee Raaste Hairaan Rah Gae.

Dard Bhari Shayari in Hindi

ग़म सलीके में थे जब तक हम खामोश थे,

जरा ज़ुबान क्या खुली दर्द बे-अदा हो गए।

Gham Saleeke Mein The Jab Tak Hum Khamosh The,

Jara Jubaan Kya Khuli Dard Be-Adab Ho Gaye.

Dard Bhari Shayari in Hindi

कितनी अजीब है मेरे अन्दर की तन्हाई भी,

हजारों सपने है,

मगर याद सिर्फ तुम ही आते हो।

Kitni Ajeeb Hai Mere Andar Ki Tanhai Bhi.

Hazaron Sapne Hain,

Magar Yaad Sirf Tum Hi Aate Ho.

Dard Bhari Shayari in Hindi

कौन कहता है नफ़रतों मैं दर्द होता है

कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है

Kon Kehta Hai Nafraton Main Dard Hota Hai

Kuch Mohabbat Badi Kamal Ki Hoti Hai

Dard Bhari Shayari in Hindi

इसी ख्याल से गुज़री है शाम-ए-ग़म अक्सर,

कि दर्द हद से जो बढ़ेगा तो मुस्कुराए दूँगा।

Isee Khayal Se Gujri Hai Sham-e-Gham Aksar,

Ki Dard Hadd Se Jo Barhega To Muskura Dunga.

Dard Bhari Shayari in Hindi

मत पूछना की दर्द किस किस ने दिए,

वरना कुछ अपनों के सर भी झुक जाएंगे।

Mat Poochna Ke Dard Kis Kis Ne Die,

Varana Kuchh Apanon Ke Sar Bhee Jhuk Jaenge

Dard Bhari Shayari in Hindi

कुछ राज़ तो क़ैद रहने दो मेरी आँखों में

हर किससे तो शायर भी नहीं सुनाता है

Kuch raaz to qaid rahane do meree nazar mein

har kisi ko shayar bhi nahin sun aata hai

 

जब फ़ुरसत मिले चाँद से

मेरे दर्द की कहानी पूछ लेना,

सिर्फ एक वो ही है मेरा हमराज

तेरे जाने के बाद।

Jab Fursat Mile Chaand Se

Mere Dard Ki Kahani Poochh Lena,

Sirf Ek Wo Hi Hai Mera HumRaaz

Tere Jaane Ke Baad.

Dard Bhari Shayari in Hindi

अगर तेरा अंदाज़ मोहब्बत देख ले कोई

रहा ना जाये उस से तेरी कसरत के बगैर

Agar tera andaaz mohabbat dekh le koe

ja na ho ki se teree hasarat ke bigade

Dard Bhari Shayari in Hindi

हँसते-हँसते अचानक रो देते है हम,

दर्द ही ऐसा गहरा दिया जो उसने हमें।

Haste Haste Achanak Ro Dete Hai Hum,

Dard Hi Aisa Gehra Diya Jo Usne Hamein.

Dard Bhari Shayari in Hindi

इल्जाम तो लगा दूं, कि कातिल भी तुम्ही हो।

मगर मासूम सा चेहरा है,

यकीन कौन करेगा?

Iljam To Laga Du,

Ki Katil Bhi Tumhi Ho.

Magar Masoom Sa Chehra Hai,

Yakeen Kaun Karega?

Dard Bhari Shayari in Hindi

एक अजीब सा मंजर नज़र आता है, हर एक आँसू समंदर नज़र आता है, 

कहाँ रखीं मैं शीशे सा दिल अपना, हर किसी के हाथ मैं पत्थर नज़र आता है।

Ek ajeeb sa manjar nazar aata hai, har ek aansoon samandar nazar aata hai, 

jahaan rakhoon main sheeshe sa dil apana, har kisee ke haath main patthar nazar aata hai.

Dard Bhari Shayari in Hindi

तुझसे पहले भी कई जख्म थे सीने में मगर,

अब के वह दर्द है दिल में कि रगें टूटती हैं।

Tujhse Pahle Bhi Kayi Zakhm The Seene Mein Magar,

Ab Ke Woh Dard Hai Ki Ragein TootTi Hai.

मुझे कबूल है हर दर्द, हर तकलीफ़ तेरी चाहत में..

सिर्फ़ इतना बता दे, क्या तुझे मेरी मोहब्बत कबूल है?

Mujhe Kabool Hai Har Dard Har Takleef Teri Chahat Mein,

Sirf Itna Bata De, Kya Tujhe Bhi Meri Mohabbat Kabool Hai?

Dard Bhari Shayari in HindiDard Bhari Shayari in Hindi

मुझ को तो दर्द-ए-दिल का मज़ा याद आ गया,

तुम क्यों हुए उदास तुम्हें क्या याद आ गया?

कहने को जिंदगी थी बहुत मुख्तसर मगर,

कुछ यूँ बसर हुई कि खुदा याद आ गया।

Mujhko Toh Dard-e-Dil Ka Mazaa Yaad Aa Gaya,

Tum Kyun Huye Udaas Tumhein Kya Yaad Aa Gaya?

Kahne Ko Zindgi Thi Bahut Mukhtsar Magar,

Kuchh Yoon Huyi Basar Ki Khuda Yaad Aa Gaya.

अंधेरा मिटा कर शहर छोड़ जाऊँगा

एक रोज़ फिर तेरा शहर छोड़ जाऊँगा

Andhera Mita Kar Saher Chod Jaunga

Ek Roz Phir Tera Saher Chod Jaunga

Dard Bhari Shayari in Hindi

ज़हर देता है कोई, तो कोई दवा देता है,

जो भी मिलता है मेरा दर्द बढ़ा देता है।

Zeher Deta Hai Koi, Toh Davaa Deta Hai,

Jo bhi Milta Hai Mera Dard Barha Deta Hai.

Dard Bhari Shayari in Hindi

जिस दिल पे चोट न आई कभी,

वो दर्द किसी का क्या जाने,

खुद शम्मा को मालूम नहीं,

क्यूँ जल जाते हैं परवाने।

Jis Dil Pe Na Aayi Chot Kabhi

Woh Dard Kisi Ka Kya Jaane,

Khud Shamma Ko Maloom Nahi

Kyon Jal Jate Hain Parwaane.

Dard Bhari Shayari in Hindi

जहाँ खामोश फिजा थी, साया भी न था, हमास कोई किसी जुर्म में आया भी न था,

न जाने क्यों छिनी गई हमसे हंसी, हमने तो किसी का दिल दुखाया भी न था।

Jahaan khaamosh phija thee, saaya bhee na thee, 

hamsa koi kisi jurm mein aaya bhee na tha, 

na jaane kyun chale gaye humse hasi, 

hamane to kisee ka dil dukhaaya bhee na tha.

Dard Bhari Shayari in Hindi

और भी कर देता है मेरे दर्द में इज़ाफ़ा,

तेरे रहते हुए गैरों का दिलासा देना।

Aur Bhi Kar Deta Hai Mere Dard Mein Izafa,

Tere Rehte Huye Ghairon Ka Dilaasa Dena.

Dard Bhari Shayari in Hindi

आ गया जिस रोज़ दिल को समझें मुझे

आप की ये बेरुखी किस काम की रह जाएगी.

Aa Gaya Jis Roz Dil Ko Samjhan Mujhe

Aap Ki Ye Berukhi Kis Kaam Ki Reh Jayegi

Dard Bhari Shayari in Hindi

दिल परेशान रहता है, उनके लिए,

हम कुछ भी नहीं हैं, जिनके लिए।

Dil Pareshan Rehta Hai Unke Liye,

Hum Kuchh Bhi Nahi Hain Jinke Liye

Dard Bhari Shayari in Hindi

शायरी में कहाँ सिमटता है दर्द-ए-दिल दोस्तों,

बहला रहे हैं खुद को जरा कागज़ों के साथ।

Shayari Mein Kahan SimatTa Hai Dard-e-Dil Dosto,

Bahla Rahe Hain Khud Ko Jara Kagazon Ke Saath.

Dard Bhari Shayari in Hindi

ये ना पूछ के शिकायतें कितनी है तुम से

तो बता तेरा कोई और सितम बाकी तो नाही

Ye na poochh ke shikaayatayeten kitanee hai aap se

to tera nahin aur seem baakee to naahee bataen

Dard Bhari Shayari in Hindi

खामोशियाँ कर दें बयां तो अलग बात है,

कुछ दर्द है ऐसे जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

Khamoshiyan Kar Den Bayan To Alag Baat Hai,

Kuchh Dard Hai Aise Jo Lafzon Mein Utaare Nahin Jaate.

Dard Bhari Shayari in Hindi

मरता नहीं कोई किसी के बगैर ये हकीक़त है ज़िंदगी

लेकिन सिर्फ सांस लेने को जीना तो नहीं कहते

Marta Nahi Koi Kisi Ke Bigair Ye Hakikat Hai Zindagi

Lekin Sirf Saans Lene Ko Jeena To Nahi Kehte

Dard Bhari Shayari in Hindi

दिल में है जो दर्द वो दर्द किसे बताएं,

हंसते हुए ये ज़ख्म किसे दिखाए,

कहती है ये दुनिया हमे खुश नसीब,

मगर इस नसीब की दास्ताँ किसे बताएं।

Dil Mein Jo Dard Hai Woh Dard Kise Batayein,

Hanste Huye Ye Zakhm Kise Dikhayein,

Kehti Hai Yeh Duniya Humein KhushNashib,

Magar Iss Naseeb Ki Dastaan Kise Sunayein.

Dard Bhari Shayari in Hindi

अब से सावन में सब का हिसाब कर दूँगा

जिसका जो बाकी है में वो हिसाब कर दूँगा

और मुझ को इस गिलास में ही क़ैद रखना वरना

पुरे शहर का पानी से सह्राब कर दूँगा

Ab se sawan mein sab ka hisab kar doonga

jisaka jo baakee hai mein vah ganana karate hain

aur meeko is gilaas mein hee qaid rakhana varana

pure shahar ka pani se sharab kar doonga

Dard Bhari Shayari in Hindi

मोहब्बत का मेरे सफर आख़िरी है,

ये कागज कलम ये गजल आख़िरी है,

मैं फिर ना मिलूँगा कहीं ढूंढ लेना,

तेरे दर्द का अब ये असर आख़िरी है।

Mohabbat Ka Mere Safar Aakhiri Hai,

Yeh Kagaz Kalam Yeh Ghazal Aakhiri Hai,

Main Phir Na Milunga Kahi Dhoondh Lena,

Tere Dard Ka Ab Yeh Asar Aakhiri Hai.

Dard Bhari Shayari in Hindi

लफ्ज़-ए-तसल्ली तो बस एक तकल्लुफ है,

जिसका दर्द उसका दर्द बाकी सब अफ़साने।

Lafz-e-Tasalli To Bas Ek Takalluf Hai,

Jiska Dard Uska Dard Baaki Sab Afsaane.

Dard Bhari Shayari in Hindi

फिर यूं हुआ की सब्र की ऊँगली पकड़कर हम,

इतना चले की रास्ते हैरान रह गए।

Phir Yoon Hua Kee Sabr Ki Ungli Pakad Kar Ham,

Itana Chale Kee Raaste Hairaan Rah Gae.

Dard Bhari Shayari in Hindi

सबसे ज्यादा दर्द तब होता है,

जब हम अपना दर्द किसी को बता नहीं पाते।

Sabse Jyada Dard Tab Hota Hai,

Jab Hum Apna Dard Kisi Ko Bata Nahi Paate

Dard Bhari Shayari in Hindi

इसे भी पढ़े –

1 thought on “Best Dard Bhari shayari – दरद भरी शायरी 2021”

Leave a Comment